Home » हिंदी » व्यक्ति विशेष » जानिए : लीक से हटकर काम करने वाले वाले  5 होनहार IAS अफसरों के बारे में

जानिए : लीक से हटकर काम करने वाले वाले  5 होनहार IAS अफसरों के बारे में

आइये आज बात करते हैं भारत के उन 5  IAS अफसरों के बारे में जिन्होंने लीक से हटकर काम किया और लोगो के दिलो में जगह बनायीं।

1. बी. चंदरकला

B. chanderkala
B. chanderkala

27 सितम्बर 1979 तेलंगाना के करीमनगर जिले मे जन्मी बी. चंदरकाला के वायरल वीडियो तो आपने देंखें ही होंगे कैसे वो काम न करने वाले अधिकारियो की क्लास लेती है

बी चन्द्रकला ने बिजनौर और मेरठ में भी डिस्ट्रिक मजिस्ट्रेट (D M)पद पर रहते हुए जनकल्याण से जुड़ीं समस्याओं को समझा और उसमे मूलभूत सुधार किये। चाहे वो स्कूल हो या कालेज ,गांव हो या शहर सबका विकास ही उनका लक्ष्य  है । विकास कार्यो में रूकावट उन्हें बर्दाश्त नहीं है
14 नवम्बर 2016 को उन्होंने एक भव्य इवेंट का आयोजन करवाया जिसमें विश्व की सबसे बड़ी पेंटिंग को जनता के द्वारा बनवाया। यह गिनीज बुक में एक रिकार्ड है ।

2 . अशोक खेमका

Ashok khemka IAS
Ashok khemka IAS

भ्रष्टाचार का काल माने जाने वाले IAS अधिकारी अशोक खेमका का जन्म भारत के पूर्वोत्तर राज्य बंगाल की राजधानी कोलकाता में हुआ था। उनके कार्यो का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं की 26 साल की सर्विस में उनका 51 बार तबादला किया गया हो।

मौत की मिली चुकी है धमकी : 

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा और रियल एस्टेट कंपनी DLF  के बीच संदिग्ध भूमि सौदों पर राज्य सरकार पर कार्रवाई करने वाले श्री खेमका को मौत की धमकी तक प्राप्त हुई लेकिन वे डरे नहीं और अपना कार्य पूर्ण निष्ठा से करते रहे हैं

3 .पी नरहरि  :

1 मार्च  1975 को जन्मे IAS अधिकारी पी नरहरि को जनकल्याण के लिए अपने कार्यो के लिए 40 से ज्यादा आवार्ड मिल चुके हैं पी नरहरि मध्य प्रदेश के पहले कलेक्टर जिन्होंने सोशल मीडिया को जनसम्पर्क का आधिकारिक जरिया बनाया।

नेत्रहीन  दिव्यांगों को  पंचसपर्श  विशेषज्ञों से ट्रेनिंग दिलवाकर उनको स्वावलम्बी बनाया और उनके लिए  सिर उठा कर जीने की एक राह बना दी। उनके इस कार्य को पुरे देश में सराह गया।

4 .आर्मस्ट्रांग पामे :

आर्मस्ट्रांग पामे
आर्मस्ट्रांग पामे

सरकार से बिना रुपये लिए बिना बनवा दी 100 Km रोड

आर्मस्ट्रांग ने जब सौ किमी रोड बनवाने का फैसला किया तो मणिपुर शासन को पत्र लिखकर बजट मांगा।  लेकिन सरकार ने मना कर दिया । इससे पहले तो आर्मस्ट्रांग निराश हुए, मगर उन्होंने हार नहीं मानी।  2012 में सोशल मीडिया पर लोगों की परेशानी का  जिक्र कर सड़क के लिए चंदा मांगाऔर  सबसे पहले खुद पहल करते हुए अपने पास से पांच लाख रुपये दिया। इसके बाद तो देश-विदेश के कई लोगों ने चंदे देने शुरू कर दिए। यही नहीं IAS  बेटे से प्रभावित होकर मां ने भी पेंशन के पांच हजार रुपये सड़क बनाने के लिए दान कर दिए। आखिरकार सड़क बन गई और लोगों की जिंदगी में खुशियां छा गईं।

5 .अवनीश कुमार शरण :

avanish sharan
avanish sharan

2009 बैच के आईएएस ऑफिसर अवनीश शरण  ने  अपनी बच्ची का दाखिला जिले के ही सरकारी स्कूल में करवा कर एक नयी मिशाल पेश की है।  इससे माना जा रहा है कि अब बलरामपुर जिले के सरकारी स्कूलों के शिक्षा स्तर में सुधार होगा।

यदि आपके पास भी कोई ऐसी स्टोरी है तो हमे ईमेल करे : [email protected]

ये भी पढ़ें :

सिर्फ 10000 रुपये में शुरू करे ये बिज़नेस कमाओगे लाखों

जानिए : दही खाने के ये 10 बड़े फायदे

जानिए : आधार कार्ड फोटो को बदलने का तरीका

Comments

comments

One comment

  1. IAS vijay kiran anand se best koi nhi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *